STORIES for CHILDREN by Sister Farida

(www.wol-children.net)

Search in "Hindi":

Home -- Hindi -- Perform a PLAY -- 028 (The very first Easter)

This page in: -- Arabic? -- Aymara -- Azeri -- Bengali? -- Bulgarian -- Cebuano -- Chinese -- English -- Farsi? -- French -- German -- Guarani -- Hebrew? -- HINDI -- Indonesian -- Italian -- Korean? -- Kyrgyz -- Malayalam? -- Portuguese -- Quechua? -- Romanian? -- Russian -- Serbian? -- Spanish -- Tamil -- Turkish -- Urdu? -- Uzbek

Previous Piece -- Next Piece

नाटक -- अन्य बच्चों के लिए अभिनीत करो !
च्चों द्वारा अभिनय करने के लिए नाटक

28. सब से पहला ईस्टर


आज तुम कितनी देर से जाग रहे हो ?

मरियम और उस की सहेलियाँ बहुत जल्दी जाग जाती हैं | परन्तु उन के दिल बहुत उदास थे | काश यीशु जीवित होते ! कुछ दिन पहले आप ने क्रूस पर अपने प्राण दिये | जब कभी उन्हों ने इस घट्ना के विषय में सोचा वे रो पड़ीं |

सूर्योदय के समय वे आप की कबर पर गईं |

सहेली: “मरियम, देखो ! पत्थर हटाया गया है ! और वहाँ, एक स्वर्गदूत !”

स्वर्गदूत: “डरो नहीं ! मैं जानता हूँ कि तुम यीशु को ढूँड रही हो | आप यहाँ नहीं हैं | आप जी उठे हैं |”

आशा बंध गई | निश्चय ही ! यीशु ने उन्हें पहले ही कह दिया था कि आप को मरना होगा और तीन दिन के बाद आप जी उठेंगे | वे यह कैसे भूल गईं ?

स्वर्गदूत: “आओ और वह जगह देखो जहाँ उन्हों ने आप का शव रखा था |”

उन महिलाओं ने कबर में झाँक कर देखा - वह खाली थी !

स्वर्गदूत: ”जाओ और चेलों को बताओ !”

अपने दिल में अत्यन्त आनंद और आश्चर्य के साथ वे कबर छोड़ कर चली गईं | यीशु जीवित हैं ! और रास्ते में आप उन्हें मिले | उन्हों ने आप को देखा | उन्हों ने आप को छुआ | आप ने उन से बातें कीं |

यीशु: “डरो नहीं, जाओ और दूसरों को बताओ !”

और उन्हों ने वैसे ही किया |

मरियम: “यीशु जीवित हैं !”

सहेली: “आप जी उठे !”

मरियम और सहेली: “कबर खाली है !”

(यह वचन पढ़ते समय पुष्ठ भूमि में संगीत बजाइये)

पवित्र शास्त्र में यीशु तुम से कहते हैं : “पुनरुत्थान और जीवन मैं हूँ | जो कोई मुझ पर विश्वास करता है वह यदि मर भी जाए तौ भी जीएगा | क्या तू इस बात पर विश्वास करती है ?” (यूहन्ना ११:२५, २६ब)

मैं तुम्हें उस शुभ कामना के साथ अलविदा कहुंगा जिसे मसीही ईस्टर के दिन एक दूसरे को कहते हैं :

“प्रभु जी उठे हैं ! प्रभु जी उठे हैं !”


लोग: वर्णन कर्ता, मरियम, मरियम की सहेली, स्वर्गदूत, यीशु

© कॉपीराईट: सी इ एफ जरमनी

www.WoL-Children.net

Page last modified on July 23, 2018, at 02:12 PM | powered by PmWiki (pmwiki-2.2.109)